29.1 C
New Delhi
October 3, 2022
क्षेत्रीय न्यूज़

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत स्टेट बैंक ऑफ इंडिया द्वारा 200000 का चेक प्रदान किया गया

अभिजीत सेन (संवादाता पोटका)

जीरो मास के 15 वें स्थापना दिवस के उपलक्ष में पोटका हैसड़ा पंचायत सीकर साई गांव के मृतक नाजिर सरदार की पत्नी सावित्री सरदार को पंचायत समिति सदस्य सुबोध सरदार द्वारा प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर सुधीर सिंह एवं सर्विस मैनेजर रामनंदन कुमार द्वारा 200000 का चेक प्रदान किया गया।

कुछ महीनों पहले जमशेदपुर से कार्य कर लौट रहे नाजिर सरदार की अज्ञात वाहन की चपेट में आने से कोवाली थाना क्षेत्र के हल्दीपोखर से कव्वाली जाने वाले मुख्य सड़क पर गंगा डीह गांव के सामने मौत हो गई थी जिसके बाद सावित्री सरदार मृतक की पत्नी को प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत 2 लाख का चेक हैसड़ा पंचायत समिति सदस्य सुबोध सरदार साथ में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर सुधीर सिंह सर्विस मैनेजर रामनंदन कुमार एवं साथ में CSP के अभिजीत सामोई एवं रंजीत कुमार प्रधान द्वारा सम्मान पूर्वक दिया गया, क्योंकि इस सराहनीय कार्य का श्रेय पंचायत समिति सदस्य सुबोध सरदार को जाता है।

जिन्होंने पंचायत के सभी खाता धारियों का विभिन्न बैंकों से प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना तथा प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत जोड़ने का काम किए हैं साथ ही साथ 0 मास के 15 वें स्थापना दिवस पर डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर सुधीर सिंह द्वारा दीप प्रज्वलित कर तथा केक काटकर खुशी का इजहार किया गया उपस्थित लोगों को बीमा योजनाओं के बारे में बताया गया. इस कार्यक्रम में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर सुधीर सिंह, सर्विस मैनेजर रामनंदन कुमार, डोमन गोप, हेसड़ा पंचायत समिति सदस्य सुबोध सरदार, उप मुखिया सीमा महा पात्रो, CSP के सदस्य अभिजीत सामई, रंजीत कुमार प्रधान, उज्जल महाकुर, दीबिंदु मंडल आदि उपस्थित रहे।

“व्यक्त किए गए और लिखे गए विचार अथवा खबर पत्रकार के स्वयं के हैं। आजाद खबर द्वारा हूबहू खबर को छापी गई है।”

 

Related posts

बड़ा सिगदी गांव में फैला चेचक का प्रकोप

आजाद ख़बर

एलकेजी से लेकर वर्ग नौ तक के विद्यालय को बंद कर दिया गया है मगर 3 साल से 6 साल के बच्चों के लिए आंगनवाड़ी खोले जाने से सेविकाओं में संशय की स्थिति बनी

घर का निर्माण घटिया स्तर का होने के कारण एक वर्ष के भीतर सभी मकान जर्जर

Leave a Comment

आजाद ख़बर
हर ख़बर आप तक