28.1 C
New Delhi
September 21, 2021
क्षेत्रीय न्यूज़

जब तक कोई विभागीय आदेश नहीं आ जाता,बच्चों को विद्यालय आने से मना नहीं कर सकता

अभिजीत सेन (संवादाता पोटका)

छात्रों को लेकर शिक्षकों में संशय की स्थिति बनी हुई है पिछले दिनों झारखंड सरकार द्वारा एक आपात बैठक में निर्णय लिया गया कि वर्ग 8 और 9 के कक्षाओं को बंद कर दिया गया है जिसके मद्देनजर मीडिया में खबरें प्रमुखता के साथ प्रकाशित की गई मगर शिक्षा विभाग की और से किसी तरह का गाइडलाइन अब तक जारी नहीं हो पाया है जिसके कारण शिक्षक वर्ग 8- 9 के छात्र छात्राओं को स्कूल आने से रोक नहीं लगा पा रहे हैं

नागा उत्क्रमित मध्य विद्यालय के प्रधानाध्यापक वीर प्रताप मुर्मू का इनका कहना है कि जब तक कोई विभागीय आदेश नहीं आ जाता है हम बच्चों को विद्यालय आने से मना नहीं कर पा रहे हैं. झारखंड में कोरोना के खतरे के मद्देनजर वर्ग 8 के छात्र छात्राओं को प्रमोट करते हुए वर्ग 8 एवं नौ के छात्र छात्राओं को विद्यालय आने से मना करने संबंधी निर्देश जारी किया गया था इसके बाद शिक्षा विभाग की ओर से किसी तरह का निर्देश नहीं आ जाने पर के कारण विद्यालय में बच्चे अभी आ रहे हैं वहीं कई विद्यालय के प्रधानाध्यापक बिना निर्देश के ही विद्यालयों में वर्ग और 8 और 9 के बच्चों को विद्यालय जाने से मना कर दिए हैं वही इस संबंध में जमशेदपुर डीइओ से फोन पर बात की गई तो उनका कहना है कि वर्ग 8 एवं 9 के छात्र छात्राओं को विद्यालय नहीं आने का निर्देश अब तक विभाग की ओर से प्राप्त नहीं हो पाया है जिसके कारण कोई निर्देश जारी नहीं हो पाया है वहीँ बीस से तीस परसेंट ही बच्चे विद्यालय में उपस्थित हो पा रहे हैं सोशल डिस्टेंसिंग फॉलो किया जा रहा है साथ ही साथ जैसे ही विभागीय निर्देश प्राप्त होता है वैसे ही वर्ग 8 एवं 9 के बच्चों को विद्यालय आने से रोक लगा दिया जाएगा.

“व्यक्त किए गए और लिखे गए विचार अथवा खबर पत्रकार के स्वयं के हैं। आजाद खबर द्वारा हूबहू खबर को छापी गई है।”

Related posts

हाथीयों का झुंड ने धान व फसलों को किया नष्ट

आजाद ख़बर

तिलका मांझी का मूर्ति तोड़ने वाले आरोपी को चाण्डिल पुलिस ने भेजा जेल

ह्यूमन राइट संस्था ने स्वास्थ्य मंत्री को सौंपा ज्ञापन

आजाद ख़बर

Leave a Comment

आजाद ख़बर
हर ख़बर आप तक