27.1 C
New Delhi
September 19, 2021
देश स्‍वास्‍थ्‍य

लॉक डाउन के कारण वापस घर जाने वाले प्रवासी कामगारों को भोजन, आश्रय, पानी उपलब्ध कराया जाए: राहुल गाँधी

कोरोनोवायरस महामारी का खामियाजा भुगत रहे हताश प्रवासियों की रिपोर्ट प्रतिदिन आ  रही है, क्योंकि देशव्यापी तालाबंदी में वे बिना काम, भोजन या धन के बिना फंसे हुए हैं और अपने मूल गांवों तक पहुंचने के लिए कोई साधन न होने के कारण वे पैदल सैकड़ों किलोमीटर यात्रा कर रहे हैं ।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शनिवार को सभी और विशेष रूप से कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे इन मजदूरों की मदद करें, जो देश भर में तालाबंदी के दौरान अपने घरों में वापस पलायन कर रहे हैं,उन्होंने कहा अगर कोई आपके शहरों और गांवों से गुजरे तो भोजन और आश्रय प्रदान जरूर  करें।

गांधी, आज सुबह ट्विटर कर कहा, “आज हमारे सैकड़ों भाई-बहनों के साथ-साथ उनके भूखे-प्यासे परिवारों को अपने गाँवों की ओर रुख करना है। उनके इस कठिन रास्ते पर, आप में से जो सक्षम हैं, उन्हें भोजन, आश्रय और पानी उपलब्ध कराएं”।

बात दें कि, देश में देश में संपूर्ण लॉक डाउन के बावजूद कोरोना वायरस के फैलते संक्रमण के बीच लोगो अपने घरों की तरफ पहुंचने के लिए कोई जद्दोजहद नहीं छोड़ते दिख रहे हैं। संकट की इस घड़ी में दिहाड़ी मजदूर सबसे ज्यादा परेशान हैं और सिर पर छत और दो वक्त की रोटी की तलाश में वह अपने घरों की तरफ पैदल ही निकल पड़े हैं।

दिल्ली से यूपी के अलग- अलग जिलों के लिए निकले दिहाड़ी मजदूर और उनके परिवार बीच रास्ते में फंस गए हैं। एक परिवार लखनऊ बस स्टेशन पर पहुंचा है लेकिन यहां से भी आगे जाने के लिए उनके पास पैदल जाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। अपना दुख बयां करते हुए उन लोगों ने बताया कि वह पिछले  कई दिनों से चल रहे हैं और पांच दिन से कुछ खाया पिया नहीं है।

Related posts

कोविड-19: नोवल कोरोनवायरस बीमारी के लिए अतिरिक्त यात्रा परामर्श

Azad Khabar

रामगढ़ जिले के माण्डू और चितरपुर प्रखंड की विभिन्न पंचायतों में आंगनबाड़ी केंद्रों पर आज टीकाकरण अभियान चला

आजाद ख़बर

पूर्वोत्तर राज्यों के लिए चिकित्सा उपकरणों, आवश्यक वस्तुओं के परिवहन के लिए विशेष कार्गो उड़ान

आजाद ख़बर

Leave a Comment

आजाद ख़बर
हर ख़बर आप तक