684 टन से अधिक आवश्यक आपूर्ति तालाबंदी के दौरान लाइफलाइन उडान द्वारा वितरित की गई

684 टन से अधिक आवश्यक आपूर्ति तालाबंदी के दौरान लाइफलाइन उडान द्वारा वितरित की गई

COVID-19 लॉकडाउन के दौरान लाइफलाइन उडान के तहत देश भर में 684 टन से अधिक आवश्यक और मेडिकल कार्गो पहुंचाए गए हैं।  भारत के COVID-19 के खिलाफ युद्ध का समर्थन करने के लिए देश के दूरदराज के हिस्सों में आवश्यक चिकित्सा कार्गो के परिवहन के लिए नागर विमानन मंत्रालय द्वारा लाइफलाइन उड़न संचालित की जा रही हैं।

लाइफलाइन  उड़ानों ने देश के दूरदराज के हिस्सों में आवश्यक चिकित्सा कार्गो के परिवहन के लिए तीन लाख 76 हजार किलोमीटर हवाई दूरी तय की है।  एयर इंडिया, अलायंस एयर, भारतीय वायु सेना और निजी वाहकों द्वारा लाइफलाइन उडान के तहत 383 उड़ानें संचालित की गई हैं।

पवन हंस सहित हेलीकॉप्टर सेवाएं जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, द्वीपों और उत्तर पूर्व क्षेत्र में संचालित हो रही हैं, जो महत्वपूर्ण चिकित्सा कार्गो और रोगियों को पहुँचाती हैं।  पवन हंस ने छह हजार किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करते हुए लगभग दो टन माल ढोया है।

घरेलू कार्गो ऑपरेटर स्पाइसजेट, ब्लू डार्ट और इंडिगो वाणिज्यिक आधार पर कार्गो उड़ानें संचालित कर रहे हैं। कार्गो के बल्क में चिकित्सा उपकरण, परीक्षण किट, व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण, मास्क और दस्ताने जैसे उत्पाद शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Founder, Zamir Azad (Holy Faith English Medium School).

Maintained & Developed by TRILOKSINGH.ORG