स्कूल में चहारदीवारी न होने से हर वक्त बच्चों के सर मंडरा रहा खतरा: मझगाँव

स्कूल में चहारदीवारी न होने से हर वक्त बच्चों के सर मंडरा रहा खतरा: मझगाँव

मझगाँव: शिक्षा विभाग बच्चों की सुरक्षा को लेकर लाख दावे करे, मगर इनकी हकीकत मझगाँव क्षेत्र के वह तमाम विद्यालय बयां कर रहे हैं जहां सुरक्षा में सबसे अहम विद्यालय की चहारदीवारी ही नहीं है। ऐसा नहीं कि अफसरों को इसका पता नहीं, बल्कि इस समस्या से जिम्मेदार पीछा छुड़ा रहे हैं। इसका जीता जागता उदाहरण अधिकारी के प्राथमिक विधालय है ।

स्कूल में चहारदीवारी न होने से हर वक्त बच्चों के सिर पर खतरा मंडराता रहता है। विद्यालय के पास गहरा तालाब है। इन स्कूलों में बाउंड्री न होने से बच्चों के तालाब में जाने और वाहनों के चपेट में आने का खतरा बना रहता है। शिक्षक भी परेशान हैं। उनका कहना है कि सबसे ज्यादा दिक्कत बेसहारा मवेशियों से होती है। दिनभर स्कूल में इनका आना जाना रहता है। कई बार बच्चों और शिक्षकों पर हमला भी कर देते हैं। स्कूल में गंदगी अलग करते हैं। अभिभावकों ने भी इस नाराजगी जताई है। इलाके के ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से मामले को संज्ञान लेकर उचित कार्रवाई की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Founder, Zamir Azad (Holy Faith English Medium School).

Maintained & Developed by TRILOKSINGH.ORG