30.1 C
New Delhi
August 20, 2022
क्षेत्रीय न्यूज़ राज्य विवाद

चांडिल के बिहार स्पोंज आईरन कंपनी को दिया गया जमीन का रजिस्ट्रेशन रद्द करने को लेकर रैयतदारौ ने उपायुक्त को सौंपा ज्ञापन

जगन्नाथ चटर्जी  (संवाददाता चांडिल)

चांडिल: पिछले सात वर्षों से कोयला की कमी का हवाला देखकर चांडिल हुमीद स्थित बिहार स्पोंज आयरन कंपनी को सरकार के द्वारा बंद रखा गया है। जिससे वहां के विस्थापित लोग रोजगार से पूर्ण रूप से वंचित है। विस्थापितों ने सभी जगह पर कंपनी को दोबारा चालू करने को लेकर मांग पत्र देते हुए गुहार लगाई। पिछले सात वर्षों से सरकार और प्रशासन के द्वारा दोबारा चालू करने की दिशा में कोई ठोस पहल नहीं होने के कारण विस्थापित मंगलवार को सरायकेला के उपायुक्त को पत्र लिखकर कंपनी को दिए गए जमीन की रजिस्ट्रेशन को रद्द करने की मांग किया है। उपायुक्त को ज्ञापन सौंपने का अवसर पर बुद्धेश्वर बेसरा, घासीराम टूडू, मनोज वर्मा, बीनू टूडू एवं समाजसेवी गुरुपद महतो सहित कई लोग शामिल थे।

चुनाव के समय वर्तमान जेएमएम विधायक सविता महतो ने कंपनी को दोबारा चालू करने का किया था वादा।
अब तक नहीं हुई चालू करने की दिशा में कोई ठोस पहल।
सरकार और स्थानीय विधायक कि इस उदासीन रवैया के कारण ग्रामीणों में देखी जा रही है नाराजगी।

Related posts

प्रशिक्षित शिक्षक संघ ने सौपा विधायक सविता महतो को मांग पत्र

पिछले चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के एक सौ नब्बे मामले: झारखंड

आजाद ख़बर

पूर्वी सिंहभूम उपायुक्त द्वारा उपलब्ध कराई गई कंबल: झारखंड

आजाद ख़बर

Leave a Comment

आजाद ख़बर
हर ख़बर आप तक